जादुई घंटी | Jadui Ghanti Kahani | Hindi Kahaniya

जादुई घंटी |  Jadui Ghanti ki Kahani | Hindi Kahaniya

जादुई घंटी |  Jadui Ghanti Kahani

Jadui Ghanti and Hindi Story of Greed - दो आदमी कही बहार जाके अपने घर आ रहे थे  उनकी नजर गांव के बहार वाले पेड़ पर Jadui Ghanti पर पड़ी तो पहले आदमी ने जब हम गाँव से गए थे तब तो यह घंटी यहाँ नहीं थी पर यह घंटी यहाँ कैसे आई लगता हैं Jadui Ghanti   कोई ना कोई इसे यहाँ  छोड़ कर गया हैं यह घंटी बहोत शानदार लग रही हैं यह धुप में चमक रही है हमको इसे ले लेना चाहिए | 
तभी पहला आदमी पेड़ पर चढ़ कर घंटी ले आता हैं और अपने बैग में रख लेता हैं  दोनों आदमी आपस में बात करते हुए घर चले जाते हैं दोनों घर जाते समय उस घंटी के बारे में ही सोच रहे थे की हो सकता हैं यह घंटी Jadui Ghanti हो | jadui ghanti jadui ghanti दोनों आदमी घर पहुंच जाते हैं उन दोनों आदमियों के घर आमने सामने ही थे तभी एक आदमी दूसरे आदमी के घर जाता हैं और उससे बोलता हैं  की आखिर यह घंटी काम क्या आएगी एक बार इसे निकल कर देखना चाहिए | 
दूसरा आदमी  अपने बैग से घंटी निकलता हैं उसको देख कर चकरा जाता हैं की घंटी सोने की बनी हुइ थी jadui ghanti cartoon उनको यकीन  नहीं होता हैं की सोने  की घंटी को पेड़ पर कोन छोड़ कर जा सकता हैं वे उस घंटी को देख रहे थे फिर दोनों आदमी साथ बोलते हैं की क्यों ना हम इस Jadui Ghanti को बेच दे इसको बेच कर जो रूपये मिलेंगे उसको बराबर बराबर बाँट लेंगे और दोनों को बात जम जाती हैं |  
तभी उनमे से एक आदमी घंटी को हाथ में लेकर बजता हैं घंटी से जैसे ही आवाज आने लगती हैं उन आदमियों के घर में बहोत सारा पैसा आने  लगता हैं जैसे जैसे घंटी बज रही थी वैसे वैसे धन बढ़ता जा रहा था यह सब देखकर उन दोनों के मन में लालच जाग जाता हैं क्योकि अब उनको समझ आ चूका था की घंटी बजने से धन आता हैं अब एक आदमी बोलता हैं की हमें घंटी को बेचने की जरूरत नहीं पड़ेगी यह Jadui Ghanti मुझे चाहिए यह मेरे काम आएगी | 
दूसरा आदमी बोलता हैं की Jadui Ghanti मुझको चाहिए यह घंटी मेरे लिए बहोत सारा धन लेके आएगी क्योकि में बहोत गरीब हु इस तरह दोनों में झगड़ा शुरू हो जाता हैं और दोनों झगड़ते हुए उसको लेने के लिए आगे बढ़ते हैं तभी घंटी हवा में उड़ने लग जाती हैं Jadui Ghanti को उड़ता देख दोनों डर जाते हैं की यह घंटी कैसे उड़ रही हैं | 
तभी Jadui Ghanti में से एक आवाज आती हैं की दोनों आदमी बहोत लालची हो तुम दोनों में लालच भरा हुआ हैं और जब तक तुम दोनों अपने जीवन में लालच नहीं छोड़ दोगे तुम दोनों का कभी अच्छा नहीं होगा तुम दोनों अच्छे दोस्त होकर भी लालच की वजह से आपस में लड़ रहे हो तुम दोनों में सिर्फ लालच भरा हुआ हैं जिसकी वजह से तुम यह दोस्ती भी नहीं निभा सकते हो | 
पर अब भी दोनों आदमी उस घंटी की बात को अनदेखा करके उस घंटी को पाने की कोशिश करते हैं की कैसे भी यह Jadui Ghanti उन को मिल जाये पर Jadui Ghanti हवा में उड़ती हुई घर से बहार निकल जाती हैं वो दोनों आदमी भी Jadui Ghanti के पीछे दौड़ लगा देते हैं Jadui Ghanti तेजी से आगे जाती हैं वो Jadui Ghanti के पीछे बहोत दूर निकल जाते हैं और थक कर रुक जाते हैं तभी उन दोनों की नजर पड़ती हैं की Jadui Ghanti वापस आकर उसी पेड़ से लटक जाती हैं जिससे उतार कर इसको लेके गए थे वो सोचते हैं की यह Jadui Ghanti काम की तो हैं पर यह तो वापस यही लटक गई हैं | 
उनको कुछ समझ नहीं आ रहा था और वह सोचते हैं की हम दोनों को मिलकर इस Jadui Ghanti को वापस पकड़ना चाहिए एक बार वापस उस Jadui Ghanti को पकड़ने की कोशिश करते हैं पर अब वो घंटी वहा से गायब हो जाती हैं वो सोचते हैं की आखिर Jadui Ghanti गई कहा उन दोनों आदमियों को कुछ समझ नहीं आ रहा था पर अब उन्हें एक बात समझ आ चुकी थी की उन दोनों के लालच की वजह से ही Jadui Ghanti उनको छोड़कर चली गई हैं और अब उनके पास इतना पैसा भी नहीं हैं की अपने जीवन में खुश रह सके | 

शिक्षा दोस्तों अगर दोनों आदमी लालच नहीं करते तो दोनों ख़ुशी ख़ुशी अपना जीवन बिताते पर अब उनको समझ आ गया था की लालच करना बुरी बात हैं जीवन में कभी लालच कभी नहीं करना चाहिए | तो दोस्तों अगर हमारी कहानी आप लोगो को पसंद आती हैं तो आगे शेयर करे कमेंट करे | 

Post a Comment

0 Comments

close